एस के विरमानी/देहरादून।उत्तराखंड के लोक पर्व फुलारी पर नन्ही बच्चियों जब देहरी पर फूल डालती हैं और सभी के कल्याण की कामना करती है, तो यह सर्वे भवंतु सुखिन: की हमारी महान संस्कृतिक परंपरा को दर्शाता है 
                                         

फूलदेई प्रकृति से जुड़ा पर्व भी है इसलिए इस अवसर पर वृक्षारोपण अवश्य करें हमारी सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने व इसे प्रचारित करने में शशि भूषण मैठानी पारस का अहम योगदान रहा है मैं उनको साधुवाद देता हूं 
                                      

कि उनके प्रयासों से आज हमारा ये लोकपर्व पांच राज्यों में मनाया जाने लगा है। आज मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने छोटे छोटे नन्हे नन्हे प्यारे बच्चों को टीका लगाकर एवं पेड़ लगाकर फूलदेई लोकपर्व त्योहार मनाया है।
                                     
Share To:

Post A Comment: