हरिद्वार ,वेद प्रकाश। महामारी के रूप में विश्व में फैल चुके कोरोना वायरस की रोकथाम और इस संकट की घड़ी में कार्य रहे लोगों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करने की उनकी अपील का हरिद्वार में व्यापक असर देखने को मिला।पीएम मोदी की अपील पर जहां समूची तीर्थनगरी पूरी तरह से बंद रही चहीं शाम पांच बजते ही लोग अपने घरों की बालकॉनी में इकट्ठा हो गए और कोरोना वायरस की लड़ाई में लोगों की सेवा में जुटे देश के तमाम चिकित्सकों,पुलिसकर्मियों,मीडिया कर्मियों व आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले लोगों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए ताली, थाली, घंटे, शंख आदि बजाकर कोरोना को देश से भागाने का संकल्प लिया। 
                                     
कई स्थानों पर पटाखे बजाकर कृतज्ञता ज्ञापित की गई और इस महामारी के समय सेवा में जुटे लोगों का हौसंला बढ़ाने का कार्य किया। इसी के साथ जनमानस ने कोरोना के खतरे को देखते हुए यह संदेश देने का कार्य किया की कोरोना को हराने के लिए हमें प्रत्येक दिशा निर्देशों का पालन करना है तथा सभी देशवासी कोरोना से लड़ने के लिए एकजुट हैं। जैसे ही शाम पांच बजे समूची तीर्थनगरी ताली, थाली, घंटे और शंख की ध्वनि से गुंजायमान हो उठी। यह सिलसिला पूरे पांच मिनट तक चला। कई लोग तो पांच बजने से पूर्व ही ताली, थाली, घंटे और शंख बजाना शुरू कर दिया था। 

हर कोई अपने घरों की बालकॉनी में खड़ा कोरोना संकट की लड़ाई में लगे लोगों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करता दिखायी दिया। लोगों को कहना था कि जिस प्रकार से समूचा देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आवाह्न पर एक जुट हुआ है, निश्चित तौर पर हम कोरोना को हराकर रहेंगे।
----------------------------------------
श्रवण नाथ नगर ‌स्थित अपने घर के बाहर पांच बजते ही ताली, थाली बजाते हुए लोग।
Share To:

Post A Comment: