आचार्य दुर्गा राम चरण दास गिरी 


ऋषिकेश।इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पीठाधीश्वर आचार्य दुर्गा राम चरण दास गिरी ने जारी की इस प्रकार की बीमारी से बचने की  जानकारी ओर बताया कि हमारे धर्म शास्त्रों में हर प्रकार की विघ्न बाधा तथा बीमारियों तथा आपदाओं से उबरने के उपाय है। हमारे मन्त्रों में इतनी शक्ति है कि वह बड़े से बड़े कार्यों को सिद्ध कर दे। 

यह वैज्ञानिक आधार पर सिद्ध हो चुका है कि साउंड एनर्जी के सही प्रयोग से बहुत कुछ किया जा सकता है।श्री दुर्गा सप्तशती के आठवा (8)अध्याय रक्तबीज वध एक एेसे राक्षस के अंत की कथा है जिसके रक्त का एक कण भूमि पर गिरते ही हज़ारों रक्त बीज राक्षस (वायरस) उत्पन्न हो रहे थे मॉ माही ने उच्च स्वर मे टंकार कर इस अध्याय में उन सबका वध कर दिया। 

करबद्ध निवेदन यदि इस पी. डी. फ़ी. के अध्याय का उच्चस्वर मे उच्चारण किया जाये तो कोई भी महामारी का अंत हो जायेगा । केवल आज ही बस जितनी संख्या में ......👇🏻👇🏻👇🏻

                                   






                         
Share To:

Post A Comment: