-मौके से शराब तस्कर गुरुचरण व उसका पुत्र फरार



एस के विरमानी/ऋषिकेश।जनपद देहरादून में नशे को जड़ से समाप्त करने, अवैध शराब तस्करी व नशा तस्करों के विरुद्ध पुलिस उपमहानिरीक्षक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के द्वारा लगातार अभियान चलाया जा रहा है।
     
उक्त अभियान के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक देहात परमेन्द्र सिंह डोभाल व क्षेत्राधिकारी वीरेंद्र सिंह रावत ऋषिकेश के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह कोतवाली ऋषिकेश के द्वारा समस्त ऋषिकेश क्षेत्र अंतर्गत अलग-अलग पुलिस टीम गठित कर लगातार सुबह व शाम नशा तस्करों व उनके ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।
                                       
   
उपरोक्त अभियान के अनुपालन में कल शाम पुलिस टीम नशा तस्करों के ठिकानों व घरों में चेकिंग अभियान चलाकर कार्यवाही कर रही थी कि मुखबिर की सूचना पर लक्कड़ घाट श्यामपुर ऋषिकेश में ध्यान मंदिर के पास एक निर्माणाधीन मकान व छोटा हाथी UK07-CC-1340 में तस्करी कर ले जाई जा रही अवैध 130 पेटी अंग्रेजी शराब मारका पार्टी स्पेशल डीलक्स व्हिस्की (छत्तीसगढ़) बरामद हुई। 

मौके से शराब तस्कर गुरुचरण व उसका पुत्र प्रदीप फरार हो गया है।अभियुक्त गुरु चरण कोतवाली ऋषिकेश का दुराचारी है, तथा पूर्व में कई बार शराब एवं चरस तस्करी में जेल जा चुका है


ऋषिकेश पुलिस द्वारा फरार नशा तस्करों की जानकारी गुरु चरण उर्फ मुन्ना पुत्र सुभाष कुमार निवासी 169 चंद्रेश्वर नगर ऋषिकेश से ओर प्रदीप कुमार पुत्र गुरु चरण उर्फ मुन्ना निवासी 169 चंद्रेश्वर नगर ऋषिकेश मिली।


मौके माल बरामदगी में अवैध 130 पेटी अंग्रेजी शराब (मारका छत्तीसगढ़) (6,240 पव्वे) प्राप्त हुआ और जिसकी अनुमानित कीमत लगभग- ₹ 9,36,000/- (नौ लाख, छत्तीस हजार) रुपये है।बता दें जानकारी में उपरोक्त अवैध 130 पेटी अंग्रेजी शराब पार्टी स्पेशल व्हिस्की के विषय में आस-पड़ोस से जानकारी की गई तो मौके पर उपस्थित ईश्वर सिंह पुत्र स्वर्गीय श्याम लाल व नीरज पुत्र रमेश निवासी लक्कड़ घाट ऋषिकेश के द्वारा बताया गया कि उक्त निर्माणाधीन मकान गुरुचरण उर्फ मुन्ना का है।उपरोक्त अभियुक्त गुरुचरण उर्फ मुन्ना कोतवाली ऋषिकेश का दुराचारी भी है। व पूर्व में कई बार शराब एवं चरस तस्करी में जेल जा चुका है।


ओर अपराधिक इतिहास में अभियुक्त गुरु चरण के विरुद्ध कुल 38 मुकदमे पंजीकृत हैं।जिनमें 36 मुकदमे कोतवाली ऋषिकेश 01 मुकदमा थाना मुनी की रेती व 01 थाना रायवाला में पंजीकृत है। जिनमें 15 मुकदमे आबकारी अधिनियम, 14 मुकदमे एनडीपीएस अधिनियम, 07 मुकदमे गुंडा/गैंगस्टर अधिनियम, 02 मुकदमे आर्म एक्ट, के है।
                                      

उपरोक्त दोनों अभियुक्तों की तत्काल गिरफ्तारी हेतु दो पुलिस टीम का गठन किया गया है। फरार अभियुक्तों के विरुद्ध कोतवाली ऋषिकेश में आबकारी अधिनियम की धारा 60 के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।शराब तस्करी में प्रयुक्त छोटा हाथी को एम.वी.एक्ट की धारा में सीज किया गया है।
Share To:

Post A Comment: