-वेडिंग जोन के लिए चिन्हित किए गये छ स्थान


ऋषिकेश-नगर निगम क्षेत्र में फुटपाथ दुकानदारों को स्थायी दुकान उपलब्ध कराने के लिए नगर निगम वेंडिंग जोन बनाएगा। इसके लिए छ स्थानों को चिन्हित किया गया है। 

नगर निगम ने वेंडिंग जोन बनाने के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं।जल्द ही गढवाल के मुख्य द्वार कहे जाने वाले ऋषिकेश में सड़कों किनारे फड़ ठेली लगाकर यातायात व्यवस्था को प्रभावित करने वालों से आमजनमानस सहित यहां आने वाले पर्यटकों एवं श्रद्वालुओं को मुक्ति मिल जायेगी।ऋषिकेश नगर निगम प्रशासन फड़ ठेली वालों के लिए वेडिंग जोन बनवाने जा रहा है।इस संदर्भ में पूर्व में बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव पारित किया जा चुका है।
                                       

शुक्रवार की दोपहर नगर निगम के स्वर्ण जयंती सभागार में वेडिंग जोन को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुई। बैठक  की अध्यक्षता करते हुए नगर निगम महापौर ने निगम अधिकारियों से वेडिंग जोन के लिए चिन्हित जगहों की जानकारी ली।उन्होंने धरातल  पर जल्द से जल्द मुक्म्मल तैयारियों के साथ वेडिंग जोंन तैयार करने को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

उन्होंने कहा कि वेंडिंग जोन का प्रोजेक्ट जल्द से जल्द पूर्ण होना चाहिए। वेंडर जोन बन जाने से ऐसे फड़ ठेली लगाने वालों को काफी फायदा होगा। तहबाजारी शुल्क में पारदर्शिता आएगी।

महापौर ममगाई ने कहा कि.इस योजना के धरातल पर उतरने के बाद जहा निगम को राजस्व का लाभ होगा। वहीं अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान फुटपाथी दुकानदारों को होने वाली परेशानी से भी छुटकारा मिलेगा। शहरी क्षेत्र में अभी भी सैकड़ों दुकानदार सड़क के किनारे दुकान चला कर रोजी रोटी का जुगाड़ करते हैं। सड़क किनारे दुकान लगाने से लोगों को जाम की समस्या से भी दो-चार होना पड़ता है। 

दुकानदारों को स्थायी दुकान उपलब्ध हो जाने से सड़कें भी अतिक्रमण मुक्त हो जाएगी। वहीं दुकानदारों को भी नगर निगम से कई सुविधाएं मिलेगी।इससे पूर्व बैठक में वेंडिंग जोन विकसित करने के लिए मैसर्स किरण सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड ने पायलट प्रोजेक्ट आरंभ करने से पूर्व प्रेजेंटेशन दिया। 
                                    

इस दौरान कंपनी ने प्रेजेंटेशन में बताया की कंपनी संपूर्ण ऋषिकेश नगर निगम का सर्वे करेगी। वेंडिंग कर रहे लघु व्यापारियों का बायोमेट्रिक पंजीकरण किया जाएगा।चिन्हित किए गए वेंडिंग जोन में उन्हें अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस रेहड़ी प्रदान की जाएगी।वेंडिंग क्षेत्र में प्रकाश ,सोलर लाइट, सीसी कैमरा ,साउंड सिस्टम टॉयलेट, पेयजल आदि की समुचित व्यवस्था की जाएगी। 

चिन्हित व्यक्ति को ही रेहड़ी उपलब्ध कराई जाएगी यदि कोई अपना स्थान बेचता है तो उसको अनुमति निरस्त कर दी जाएगी।बैठक में वेडिंग जोन के निर्माण के खर्च सहित फड़ वालों के लिए प्रतिमाह किराए को लेकर भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये।

नगर मुख्य आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल के संचालन में चली बैठक में निगम अधिकारियों सहित विभिन्न विभागों के नामित सदस्य एवं नगरीय फेरी समिति संघों के प्रतिनिधि सम्मिलित रहे।
Share To:

Post A Comment: