देहरादून एस के विरमानी।5 फरवर 2020 को  वादी मुकदमा गौरव गुप्ता पुत्र के.एन. गुप्ता निवासी कावली रोड देहरादून द्वारा तहरीर देकर अवगत कराएगी उसके भाई वैभव गुप्ता की स्कूटी दिनांक 31 जनवरी 2020 को शाम के समय दून स्कूल के सामने एकांत स्थान  में ग्राउंड में खड़ी थी जिसमें उसका पर्स, एटीएम, मोबाइल व अन्य जरूरी कागजात थे अज्ञात व्यक्तियों द्वारा चोरी कर लिए गई है चोरो द्वारा उनके एटीएम जिस पर पिन लिखा था से 2000 रु भी निकाल लिए गए है।  

उक्त तहरीर के  आधार पर थाना कैंट में मुकदमा अपराध संख्या 23/2020 धारा 379 आ.ई.पी.सी में अभियोग पंजीकृत कर विवेचना उप निरीक्षक सुनील नेगी  के सुपुर्द की गई व मुक़दमे के सफल अनावरण हेतु पुलिस उपमहानिरीक्षक /वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के निर्देशन में मामले की गंभीरता के दृष्टिगत इन शातिर चोरों  की धरपकड़ हेतु पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्राधिकारी मसूरी के निकट पर्वेक्षण में विशेष अभियान चलाया गया। जिस क्रम मे कूल तीन टीमें गठित की गई ( 02 ) टीम वर्दी ओर (01) टीम सदा में तैयार की गए जिनके द्वारा घटनास्थल के आसपास व शहर मैं प्रवेश करने तथा बाहर जाने वाले मुख्य मार्गो/गलियो पर लगे सरकारी/प्राइवेट करीब 60 से 70 कैमरों की सीसीटीवी फुटेज चेक की गई जिनमें दो संदिग्ध व्यक्ति और एक स्कूटी घटना के समय आती जाती  दिखाई दी संदिग्धों की शिनाख्त हेतु पूर्व में चोरी में जेल गए अपराधियों और अभी हाल ही में जेल से छूटे अपराधियों को थाने में बुलाकर सत्यापन की कार्यवाही करते हुए मोखबीरो से संपर्क स्थापित किया गया की गया।


इस क्रम मे दिनांक  8 फरवरी 2020 को प्रभारी  कोतवाली कैंट के नेतृत्व में  गठित टीम द्वारा कोतवाली कैंट क्षेत्र baloopur फ्लाईओवर के पास से मुखबिर की गोपनीय  सूचना के आधार पर दो अभियुक्तों को दिनांक 8 फरवरी 2020 की रात्रि समय 1900 P.m बजे गिरफ्तार किया गया।जिसके कब्जे से वादी मुकदमा की चुराई हुई स्कूटी एक्टिवा ,वादी मुकदमा का मूल आधार कार्ड ,2 अवैध खुखरी की बरामदगी हुई तथा घटना में एक अन्य अभियुक्त मोनू निवासी पथरिया वीर / विकासनगर का नाम भी प्रकाश में आया जिसे प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर उक्त मुकदमे में वांछित किया जा रहा है।

अभियुक्त  द्वारा पूछताछ पर बताया कि हम  तीनों  एक दूसरे को काफी समय से जानते हैं  और  साफ सफाई का कार्य करने के साथ-साथ साथ में नशा व महंगे शौक भी करते हैं इसी कारण हम पर कोई लोगों का कर्जा हो गया था कर्जदार हमें बार-बार परेशान कर रहे थे हमारे पास उन्हें देने के लिए पैसे नहीं थे।फिर हमने चोरी की योजना बनाई दिनांक 31/1/2020 की शाम को हम लोग अपनी  स्कूटी नंबर   Uk07BX  8718 से बंद मकान और लावारिस वाहनों को चोरी करने के इरादे से रेकी कर रहे थे इसी दौरान दूंन स्कूल के सामने  ग्राउंड में एक स्कूटी जिस पर चाबी लगी हुई थी हमें दिखाई दी आसपास देखा हमने कोई नहीं था मौका मिलने पर हमने उस स्कूटी को चुरा लिया आगे जाकर देखा तो उसमें एटीएम,mobile और अन्य सामान था एटीएम में पिन नंबर भी लिखा हुआ था हमने वही पीएनबी बैंक एटीएम से ₹2000 निकाले और एटीएम को तथा एक पर्स जो स्कूटी के अंदर से मिला था जिसमे 200 रु थे से पैसे निकालकर झाड़ियों में दूर-दूर फेंक दिया तथा स्कूटी का भी आगे पीछे का नंबर निकाल दिया ताकि पुलिस चेकिंग में हम पकड़े ना जाए गाड़ी में रखे कागजात व मोबाइल मोनू अपने साथ ले गया था उसके बाद हम तीनों ने इस स्कूटी को लोकल में बेचने का बहुत प्रयास किया परंतु  इस स्कूटी को जब हमसे किसी ने नहीं लिया तू फिर मोनू के बुलाने पर  हम लोग कल इस स्कूटी को बेचने  के लिए विकासनगर जा रहे थे कि पकड़े गए। 

बरामद माल में एक स्कूटी एक्टिवा 4G बिना नंबर वादी मुकदमा की ओर एक मूल आधार कार्ड वादी मुकदमा से संबंधित ओर अभियुक्त सोनू से बरामद एक अवैध खुखरी ओर अभियुक्त शुभम से बरामद एक अवैध खुखरी ओर घटना में प्रयुक्त एक्टिवा UK07BX-8718 ओर अमित गणों के अपराधिक इतिहास के संबंध में जानकारी ली जा रही है।बता दें पुलिस टीम में क्षेत्राधिकारी मसूरी नरेंद्र पंत थानाध्यक्ष संजय मिश्रा, उपनिरीक्षक सुनील नेगी,कॉस्टेबल विकास,कॉन्स्टेबल सर्वेश,कांस्टेबल मदन कन्याल रहे।अभियुक्त गण को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया  गया।
Share To:

Post A Comment: