ढालवाला।रविवार 26 जनवरी 2020 को एमआईटी ढालवाला ऋषिकेश में 71 वें गणतंत्र दिवस को बड़े ही धूमधाम से मनाया।
                                      


इस महत्वपूर्ण पर्व पर एमआईटी के प्रांगण में ध्वजारोहण संस्थान के निदेशक द्वारा अध्यापकों की उपस्थिति में किया गया।इस अवसर पर संस्थान के निदेशक रवि जुयाल ने बताया आज भारत अपना 71वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। 26 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है।  

                                      

सबसे पहले मैं आपको बताना चाहता हूं कि गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है। दरअसल इस दिन ही हमारे देश को अपना संविधान मिला था। 26 जनवरी 1950 को सुबह 10 बजकर 18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया था। संविधान लागू होने के बाद हमारा देश भारत एक गणतंत्र देश बन गया। 


इस के 6 मिनट बाद 10 बजकर 24 मिनट पर राजेंद्र प्रसाद ने भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी। इस दिन पहली बार बतौर राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद बग्गी पर बैठकर राष्ट्रपति भवन से निकले थे।  
                                    

यह संविधान ही है जो भारत के सभी जाति और वर्ग के लोगों को एक दूसरे जोड़े रखता है। भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। 2 साल, 11 महीने और 18 दिन में यह तैयार हुआ था। 

संविधान को लागू करने के लिए 26 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया, क्योंकि 1930 में इसी दिन कांग्रेस के अधिवेशन में भारत को पूर्ण स्वराज की घोषणा की गई थी।ओर बता देआजादी मिलने और संविधान लागू होने के इतने बरसों बाद भी आज भारत अपराध,भ्रष्टाचार,हिंसा,नक्सलवाद,आतंकवाद,गरीबी,बेरोजगारी,अशिक्षा जैसी समस्याओं से लड़ रहा है। हम सभी को एक होकर इन समस्याओं को खत्म करने की कोशिश करनी चाहिए। 
                                     

भारत को जब तक इस समस्याओं से बाहर नहीं निकालते तब तक स्वतंत्रता सेनानियों का सपना पूरा नहीं होगा। एक होकर प्रयास करने से श्रेष्ठ और विकसित भारत का निर्माण होगा। 

इसके बाद मिष्ठान वितरण हुआ और कार्यक्रम का समापन हुआ। मौके पर संस्थान के निदेशक रवि जुयाल और सभी विभागों के विभागाध्यक्ष और अध्यापको की उपस्थिति रही।
Share To:

Post A Comment: