ऋषिकेश-ऋषिकेश नगर निगम के इन्दिरा नगर क्षेत्र के मीट विक्रेताओं का मामला शासन स्तर पर पहुंच गया है। गेंद अब पूरी तरह से शहरी विकास मंत्रालय के पाले में है।नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने मीट विक्रेताओं के मामले में शहरी विकास सचिव से मुलाकात कर उनसे ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र में अण्डा,मांस, मछली विक्रय करने के संबंध में जानकारी मांगी है। इस बाबत महापौर द्वारा उन्हें एक पत्र भी सौंपा गया ।जिसमें उन्हें अवगत कराया गया कि नगर निगम ऋषिकेश का गठन 2017 में हुआ है, जिसमें नए ग्रामीण क्षेत्रों को सम्मिलित किया गया है। पूर्व में ग्रामीण क्षेत्रों में मीट,मछली,अंडे की दुकानें संचालित होती रही है, जिनके 
                                    

पास दुकान का संचालन हेतु लाइसेंस भी है।वर्तमान में यह  क्षेत्र नगर निगम में सम्मिलित होने एवं कुंभ क्षेत्र होने के कारण नगर निगम द्वारा मीट विक्रेताओं को नोटिस दिया गया है। शहरी विकास सचिव को सौंपे पत्र में  इस बात का भी उल्लेख किया गया कि एम्स हॉस्पिटल में उपचार के दौरान विभिन्न गंभीर बीमारियों से जूझ रहे रोगियों को अंंडे एवं मीट खाने की सलाह दी जाती है। कुंभ क्षेत्र हरिद्वार में भी आउटर में मांस,मछली एवं अंडे का व्यवसाय होता है। उपरोक्त परिस्थितियों के अनुसार जनहित में उचित निर्णय लेने की बात प्रेषित पत्र में महापौर द्वारा शहरी विकास सचिव से की गई हैं।
Share To:

Post A Comment: