ऋषिकेश। 7 नवंबर 2019 को उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने दीपावली के 11 दिन बाद मनाए जाने वाले इगास-बग्वाल पर्व की प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।अग्रवाल ने कहा है कि इगास-बग्वाल पर्व हम सभी के जीवन में नया प्रकाश लेकर आए और हमारा प्रदेश सदा सुख, समृद्धि और सौभाग्य से आलोकित रहे।

विधानसभा अध्यक्ष ने अपने संदेश में कहा है कि उत्तराखंड की सभ्यता, संस्कृति और पर्व-त्योहार को मनाने का तरीका अपने आप में अनूठा है उन्होंने कहा कि इगास पर्व के दिन वर्षों से चली आ रही परंपराओं को निभाया जाता है।देवभूमि में इस दौरान भैलो खेलने का रिवाज है जोकि खुशियों को एक दूसरे के साथ बांटने का माध्यम है।इस दिन रक्षा बंधन पर हाथ पर बंधे रक्षासूत्र को बछड़े की पूंछ पर बांधकर मन्नत पूरी होने के लिए आशीर्वाद मांगा जाता है।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा है कि ज्योति पर्व दीपावली का उत्सव इसी दिन पराकाष्ठा को पहुंचता है, इसलिए पर्वों की इस शृंखला को इगास-बग्वाल नाम दिया गया।विधानसभा अध्यक्ष ने सभी से पर्व को मनाए जाने का आह्वान किया है जिससे कि आज की पीढ़ी हमारी संस्कृति को समझ और जान सके एवं हमारी लुप्त होती संस्कृति को बचाए जा सके।

अवगत कराना है कि विधानसभा अध्यक्ष कल 8 नवम्बर को इगास मनाने सांसद अनिल बलूनी के पैतृक गांव नकोट, कंडवालस्यु जाएंगे। ये गांव पौड़ी जनपद के कोट ब्लाक में स्थित है।
Share To:

Post A Comment: