ढालवाला।। एमआईटी ढालवाला मे हुआ गांधी जयंती पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन और कार्यक्रम का आरंभ लाल बहादुर शास्त्री और गांधी जी के चित्र पर एमआईटी संस्थान के संस्थापक एच जी जुयाल द्वारा माल्यार्पण कर और पुष्प अर्पण के साथ वंदना स्तुति के पश्चात कार्यक्रम की शुरुआत हुई।
                              


इस कार्यक्रम में आईटी विभाग,वाणिज्य विभाग और शिक्षा विभाग के बच्चों ने प्रतिभाग किया जिसमें सभी प्रतिभागी बच्चों ने अपनी भव्य प्रस्तुति कर दर्शकों का मन मोह लिया और इसी नाटक मंचन की भव्य प्रस्तुति में शिक्षा विभाग के प्रतिभागी बच्चे प्रथम स्थान पर रहे।
                               



वाणिज्य विभाग के बच्चे द्वितीय स्थान पर तथा आईटी विभाग के बच्चे तृतीय स्थान पर रहे।इस कार्यक्रम में एमआईटी संस्थान के संस्थापक एच जी जुयाल ने अपने संबोधन में बताया कि आज हम आजाद भारत में सांस ले रहे हैं,वो इसलिए क्योंकि हमारे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने अपने अथक प्रयासों के बल पर अंग्रेजो से भारत को आजाद कराया यही नहीं इस महापुरुष ने अपना पूरा जीवन राष्ट्रहित में लगा दिया। 
                              


महात्मा गांधी की कुर्बानी की मिसाल आज भी दी जाती है।महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता और बापू जी के नामों से भी पुकारा जाता है। वे सादा जीवन,उच्च विचार की सोच वाली शख्सियत थे। 
                               

उन्होंने अपना पूरा जीवन सदाचार में गुजारा और अपनी पूरी जिंदगी राष्ट्रहित में कुर्बान कर दी।उन्होनें अपने व्यक्तित्व का प्रभाव न सिर्फ भारत में ही बल्कि पूरी दुनिया में डाला।महात्मा गांधी महानायक थे जिनके कार्यों की जितनी भी प्रशंसा की जाए उतनी कम है। 
                                

महात्मा गांधी कोई भी फॉर्मुला पहले खुद पर अपनाते थे और फिर अपनी गलतियों से सीख लेने की कोशिश करते थे।
                              

आपको बता दे एमआईटी संस्थान के निदेशक रवि जुयाल ने सभी प्रतिभागी बच्चों को कार्यक्रम में भव्य प्रस्तुति को देखते हुए सभी बच्चों के कार्य को सराहा और बधाई दी और उनका उत्साहवर्धन किया। 
                           

शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्षा डॉ ज्योति जुयाल के द्वारा घोषित किया गया।जैसा की आपको विदित है कि  पिछले कई दिनों से  गांधी जयंती की 150वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में कई कार्यक्रमों का आयोजन हुआ है। 
                               

संपूर्ण संस्थान को पॉलिथीन के  प्रयोग से प्रतिबंधित किया गया,स्वच्छता अभियान चलाया गया,कई तथ्यों पर भाषण एवं प्रेरणादायक तथ्यों से विद्यार्थियों को अवगत भी कराया गया। 
                                



2 अक्टूबर के नाटक के कार्यक्रम में निर्णायक की भूमिका डॉ निखिल,डॉ दर्शन पैन्यूली एवं राजेश सिंह चौधरी ने निभाई। इस कार्यक्रम के आयोजक मैनेजमेंट विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ एल एम जोशी जी रहे और कार्यक्रम के  समन्वयक  की भूमिका अंशु यादव ने निभाई।  
                               



इस कार्यक्रम में एमआईटी ढालवाला ऋषिकेश के संस्थापक एच जी जुयाल, निदेशक रवि जुयाल, विभागाध्यक्ष डॉ ज्योति जुयाल,डॉ कौसल्या डंगवाल सभी विभागों के  समस्त शिक्षक गण और विद्यार्थी उपस्थित रहें।
Share To:

Post A Comment: